हर लाभार्थी को हक मिलने तक आराम नहीं करेगी सरकार :मोदी

कहा, मोदी उन लोगों की देखभाल कर रहे हैं, जिन्हें पहले सभी ने नजरअंदाज किया

लखनऊ। भूमि पूजन समारोह में लोगों को संबोधित करते हुए

• प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि यह आयोजन मेरे यूपी के विकास के माध्यम से विकसित भारत के संकल्प को दिशा में एक कदम है। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से यूपी के 400 से अधिक स्थानों पर लोग इस कार्यक्रम को लाइव देख रहे हैं। उन्होंने कहा कि पीएम आवास के तहत 4 करोड़ पक्के मकान बनाए गए। शहरी मध्यमवर्गीय परिवारों को भी अपने घर के सपने को साकार करने के लिए 7 हजार करोड़ रुपये की सहायता दी गई। इसके माध्यम से यूपी के 1.5 लाख परिवारों सहित 25 लाख लाभार्थी परिवारों को ब्याज में छूट मिली। 2014 में छूट की सीमा को 2 लाख से बढ़ाकर अब 7 लाख करने जैसे आयकर सुधारों से मध्यम वर्ग को मदद मिली है। पीएम ने कहा, मोदी की गारंटी है। कि सरकार तब तक आराम नहीं करेगी जब तक कि प्रत्येक लाभार्थी को वो नहीं मिल जाता जिसके वे हकदार हैं। चाहे पक्के घर हो, बिजली की आपूर्ति हो, गैस कनेक्शन हो

दुनिया की हर डाइनिंग टेबल पर भारत के उत्पाद

प्रधानमंत्री ने खाद्य प्रसंस्करण से जुड़े उद्यमियों का आल्वान किया कि उन्हें संकल्प लेना चाहिए कि दुनिया के हर डायनिंग टेबल पर मेक इन इंडिया का उत्पाद हो। कहा कि मोटे अनाज को लेकर नंया ट्रेंड देखने को मिल रहा है। इस सुपर फूड में निवेश का अच्छा अवसर है। सरकार छोटे-छोटे किसानों को बाजार की बड़ी परदा किसान और मिट्टी की होगा, उतना ही परछ फूड प्रोसेसिंग से जुड़े उद्यम को भी होगा। मोदी ने कहा कि देश में जिस तरह की सोच आजादी के बाद कई दशकों तक रही, उस पर चलते हुए ये परिवर्तन संभव नहीं था। तब की सरकारों की सोच थी कि नागरिकों का जैसे-तैसे गुजारा कराओ। हर मूलभूत सुविधा के लिए तरसा के रखो। पहले की सरकारें केवल चुनिंदा शहरों में अवसर उपलब्ध कराती थीं, जिसके कारण देश का बड़ा हिस्सा विकास से वंचित रहा। डबल इंजन की सरकार ने पुरानी राजनीतिक सोच को बदला। हम हर नागरिक के जीवन को आसान बनाने में जुटे हैं। जीवन आधान होगा तो निवेश व कारोबार आसान होगा।

सरकारी योजनाओं ने बढ़ाई खरीद शक्ति

लखपति दीदी योजना, पीएम स्वनिधि योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना का जिक्र करते हुए पीएम ने कहा कि इससे ग्रामीण व शहरी मध्यम वर्ग की खरीद शक्ति बढ़ी है। उन्होंने एमएसएमई को यूपी की ताकत बताया। साथ ही ओडीओपी व पीएम श्रम सम्मान योजना के माध्यम से आए बदलावों को भी रेखांकित किया। पीएम स्वनिधि योजना के तहत स्ट्रीट वेंडरों को 10,000 करोड़ रुपये की सहायता दी गई। यूपी में करीब 22 लाख स्ट्रीट वेंडरों को लाभ मिला। योजना के लाभार्थियों को 23,000 रुपये की अतिरिक्त वार्षिक आय हुई। पीएम स्वनिधि के 75 प्रतिशत लाभार्थी एससी, एसटी, पिछड़े या आदिवासी समुदाय से हैं, जिनमें से आधी महिलाएं हैं। 13,000 करोड़ रुपये को पोएम विश्वकर्मा योजना यूपी के लाखों विश्वकर्मा परिवारों को आधुनिक कार्यप्रणाली से जोड़ेगी। पहले उनके पास बैंकों के लिए कोई गारंटी नहीं थी, आज उनके पास मोदी की गारंटी है।

हर व्यक्ति आना चाहता है वाराणसी और अयोध्या

मोदी ने कहा कि देश का हर व्यक्ति आज वाराणसी और अयोध्या की यात्रा करना चाहता है। इससे यूपी में छोटे उद्यमियों, एयरलाइन कंपनियों और होटल रेस्तरां मालिकों के लिए अभूतपूर्व अवसर पैदा हो रहे हैं।

By Snews

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *